Mon, Oct 25, 2021
Updated 1:48 pm IST
Updated 1:48 pm IST

जानिए किस महीने में पैदा होने वाले बच्चे होते हैं अधिक तेज, क्या होती है खासियत

Published on : Feb 6, 2020, 00:00 AM
By : Beuro
news

HIGHLIGHTS

नई दिल्ली  (एजेंसी) >>>>>>>    एक रिसर्च के दौरान यह पता चला है कि फरवरी में जन्मे बच्चे अधिक बुद्धिमान और लंबी कद काठी के होते हैं. इस महीने में पैदा हुए बच्चे अपनी क्रिएटिविटी के दम पर लोगों के बीच अपनी खास पहचान बनाते हैं. ये लोग झट से किसी भी समस्या का हल खोजने में भी माहिर होते हैं. यह शोध 21,000 बच्चों पर करीब सात साल तक किया गया. रिसर्च के अनुसार, फरवरी में पैदा होने वाले बच्चों में कम तनाव देखने को मिलता है. इनमें चिड़चिड़ापन भी कम होता है.

हालांकि, ये जल्दी ही किसी भी बात को दिल से लगा लेते हैं. शोधकर्ता के मुताबिक, फरवरी में पैदा हुए लोग जरा हटकर पेशा चुनने में ज्यादा विश्वास रखते हैं. इस महीने में जन्मे ज्यादातर लोग या तो कलाकार बनते हैं या फिर यातायात पुलिस में सेवाएं देना पसंद करते हैं.

न्यूजीलैंड में शोधकर्ताओं ने 4 से 5 साल की उम्र के बच्चों पर यह शोध किया. इसमें बच्चों के विचार, स्वभाव, फिजूलखर्ची, ध्यान और दोस्त बनाने की कला का विश्लेषण किया गया था. इस दौरान सर्दी में पैदा होने वाले बच्चों को व्यावहारिक रूप से ज्यादा बेहतर पाया गया.

इससे पहले येल विश्वविद्यालय के रिसर्चरों ने अपने नए शोध में दावा किया था कि प्राकृतिक तरीके से जन्मे बच्चे ऑपरेशन के माध्यम से जन्म लेने वाले बच्चों की तुलना में ज्यादा बुद्धिमान होते हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार, महिलाएं जब बच्चे को प्राकृतिक तरीके से जन्म देती हैं तो उनमें एक विशेष प्रोटीन का स्तर बहुत उच्च पाया जाता है जो बच्चों के विकासक्रम में उनकी बुद्धिमत्ता को बढ़ाता है.

अध्ययन में दावा किया गया है कि प्राकृतिक तौर पर जन्मे बच्चों में ‘यूसीपी2’ प्रोटीन का उच्च स्तर उनके यादाश्त को बढ़ाने में सहायक होता है और यह मनुष्य की ‘आईक्यू’ को बढ़ाने का सबसे महत्वपूर्ण तत्व है. इस अध्ययन के परिणाम जर्नल ‘पीएलओएस वन’ में प्रकाशित हुए थे.

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार